टाइम्स स्क्वायर पर नहीं प्रदर्शित हुई थी भगवान् राम की तस्वीर, जानें सच

0 357

अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास समारोह से पहले टाइम्स स्क्वायर की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर साझा की जा रही है जिसमें विशालकाय होर्डिंग में भगवान राम की तस्वीर देखी जा सकती है।

2 अगस्त, 2020 के इस पोस्ट का दावा है कि ये वायरल तस्वीर कल यानी 1 अगस्त, 2020 को ली गयी थी।

कैप्शन में लिखा है – “कल, न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर में कैलेंडर किट्स। संघियों ने हिंदू धर्म को अपनी तरह कितना नीचे गिरा दिया है।

Times Square Newyork in full Glory with Jai Shree Ram !! Really a Proud moment for every Hindu in this world .Jai Shree Ram !!

Kuldeep Shekhawat यांनी वर पोस्ट केले शनिवार, १ ऑगस्ट, २०२०

न्यूज़ मोबाइल फैक्ट चेक :

न्यूज़ मोबाइल ने जब इन ख़बरों का फैक्ट चेक किया तो पता चला कि ये फोटो फेक है।

सबसे पहला शक जो हमे हुआ कि ये फोटो फेक है वो ये देख के हुआ कि वायरल इमेज में कुछ पोस्टरों पर टेक्स्ट (शब्द) उलटे थे।

सच जानने के लिए सबसे पहले हमने तस्वीर को फ़्लिप किया और फिर इसे रिवर्स इमेज सर्च के माध्यम से चलाया। खोज परिणाम ने हमें उन वेबसाइटों तक पहुंचाया जहाँ ये मूल चित्र सेल पर थे।

ये भी पढ़े : फैक्ट चेक : इन शहरों को मिलेगा कोरोना की वैक्सीन का पहला डोज़? जानें सच

तस्वीर के विवरण में कहा गया है कि यह तस्वीर जोस फस्टे राग द्वारा क्लिक की गई थी।

उपरोक्त कोलाज यह साबित करता है कि दोनों फोटो समान हैं और मूल चित्र के ऊपर भगवान राम के चित्र को सुपरइम्पोस किया गया है।

खोज में हमे कुछ रिपोर्ट्स भी मिली जो ये दावा कर रही थी कि भगवान् राम के कुछ 3D फ़ोटोस 5 अगस्त को टाइम्स स्क्वायर पर प्रदर्शित की जाएंगी।

स्क्रॉल में प्रकाशित एक अन्य लेख में कहा गया है कि अमेरिका के बीस संगठनों और कई व्यक्तियों ने सामूहिक रूप से न्यूयॉर्क के मेयर को एक पत्र लिखकर इस कदम के लिए अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की है और साथ ही विरोध भी जताया है।

खैर ये तो देखने वाली बात होगी की टाइम्स स्क्वायर पर भगवान राम की तस्वीरें प्रदर्शित होती है कि नहीं फिलहाल तो हम दावा कर सकते है कि ये तस्वीरें फेक है और भ्रामक है।

यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 88268 00707 पर व्हाट्सएप करें।